Breaking News

*उपकरण के अभाव में कोयला उत्पादन हो रहा प्रभावित*

*उपकरण के अभाव में कोयला उत्पादन हो रहा प्रभावित*
*आमाडाड़ओसीपी के पी कुमार की मनमानी चरम पर*
संतोष चौरसिया
जमुना कोतमा कोल इंडिया की सहायक कंपनी एसईसीएल के जमुना कोतमा क्षेत्र की जीवनदायिनी कहे जाने वाली आमाडाड़ खुली खदान परियोजना मे अधिकारियों की लापरवाही से कोयला उत्पादन का कार्य प्रभावित हो रहा है और कोयले का उत्पादन अपने निर्धारित लक्ष्य से कोसों दूर है जब हमारे प्रतिनिधि ने आमाडाड़ खुली खदान परियोजना का निरीक्षण कर ग्राउंड रिपोर्टिंग जानने का प्रयास किया कि कहां पर प्रबंधन द्वारा चूक हो रही है कि कोयले का अपार भंडार होने के बाद भी कोयले का उत्पादन क्यों नहीं हो पा रहा है तो पता चला कि वहां पर एक्स वेशन विभाग में पदस्थ अधिकारी पी कुमार की मनमानी की वजह से मशीनों में लगने वाले छोटे-मोटे कलपुर्जे उपलब्ध नहीं होने की वजह से आए दिन उत्पादन कार्य में लगे मशीन ब्रेकडाउन रहते हैं जिन्हें कि समय पर आवश्यक पार्ट्स न मिलने की वजह से उन्हें नहीं सुधारा जा सकता और उत्पादन कार्य काफी प्रभावित हो रहा है वहां पर कार्यरत श्रमिकों ने बताया कि छोटे-मोटे पार्ट्स बैरिंग हो होस पाइप व अन्य चीजों के लिए एक्सप्रेशन विभाग में पदस्थ अधिकारी पी कुमार को बताया जाता है लेकिन वह इस ओर तनिक ध्यान नहीं देते हैं जिसकी वजह से मशीनें खराब रहती हैं उत्पादन प्रभावित होता है और हम सब लोग परेशान हैं इसलिए यहां पर कार्यरत समस्त एक्शन विभाग के व अन्य मशीन के संचालकों ऑपरेटरों ने क्षेत्र के नवागत महाप्रबंधक सुधीर कुमार जमुना कोतमा क्षेत्र से मांग किया है कि वह इस ओर ध्यान देते हुए उस कमी को पूरी किया जाए ताकि कोई का उत्पादन पर्याप्त मात्रा में हो सके और संबंधित दोषी अधिकारी के ऊपर कड़ी से कड़ी कानूनी कार्यवाही किया जाए जो कि उत्पादन की ओर ध्यान न देकर केवल कमीशन और अनाप-शनाप कार्यों में मस्त रहते हैं उक्त पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए हिंद कोयला मजदूर सभा के अध्यक्ष श्री कांत शुक्ला ने भी मान लिया है कि उक्त समस्या को वहां के उनके श्रमिक संगठन के लोगों ने जानकारी दी है उन्होंने भी संगठन के माध्यम से मांग किया है कि उक्त समस्या को अतिशीघ्र दूर किया जाए

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close