अनूपपुर

महिला अपराध के उन्मूलन हेतू जनजागरूकता अभियान “सम्मान” के माध्यम से लाई जाएगी जनचेतना

समाज की सक्रिय सहभागिता सुनिश्चित करने हेतु जगायी जाएगी अलख

सुरक्षित एवं समान अधिकार के वातावरण के निर्माण की पुलिस अधीक्षक श्री सोलंकी ने दिलायी शपथ
अनूपपुर। महिला अपराध के उन्मूलन हेतु समाज की सक्रिय सहभागिता सुनिश्चित करने हेतु सम्पूर्ण प्रदेश में 11 जनवरी से 26 जनवरी तक जनजागरूकता अभियान ‘सम्मान’ के माध्यम से अलख जगायी जाएगी। श्सम्मानश् अभियान का उद्देश्य महिला अपराध के उन्मूलन में समाज की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करना, महिलाओं और बालिकाओं के लिए सम्मानजनक एवं अनुकूल वातावरण तैयार करना और आम लोगों को कानूनी प्रावधानों के प्रति इस तरह जागरूक करना है कि वे महिला सुरक्षा के प्रति अपनी जिम्मेदारी को निभा सकें। उक्त के अनुक्रम में पुलिस अधीक्षक एम.एल.सोलंकी द्वारा 11 जनवरी को कलेक्ट्रैट सभाकक्ष में शपथ दिलायी गयी कि सभी नागरिक अपने आस-पास ऐसा वातावरण बनाएं जिसमें नारी अपने आप को सुरक्षित महसूस करे तथा उन्हें समान अवसर प्राप्त हों। अभियान के माध्यम से महिलाओं बच्चों में सुरक्षा जागरूकता, समाज की सक्रिय भागीदारी एवं अपराधियों को हतोत्साहित करने का कार्य किया जाएगा। पुलिस अधीक्षक श्री सोलंकी ने अनूपपुर जिले के समस्त नागरिकों से “सम्मान” अभियान में सक्रिय सहभागिता की अपील की है। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक राजन, सहायक संचालक महिला सशक्तिकरण मंजुशा शर्मा सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि उपस्थित थे। सम्मान अभियान के चार महत्वपूर्ण अंग 11 जनवरी से प्रारंभ हुए श्सम्मानश् अभियान के चार प्रमुख अंग होंगे। इस 15 दिवसीय अभियान में महिला अपराधों के विरूद्ध सामाजिक जनचेतना, महिला सुरक्षा, और सम्मान से संबंधित विषय पर प्रतियोगिताएं सम्पन्न करवाना और सायबर सुरक्षा शामिल हैं। अभियान की शुभंकर श्गुड्डीश् एक 16 वर्षीय जागरूक बालिका है जो अपने अधिकारों के प्रति सजग है। “सम्मान” अभियान के अंतर्गत 11 से 14 जनवरी सामुदायिक सुरक्षा अभियान, 15 से 18 जनवरी संवेदनशील स्थलों का परीक्षण, 19 से 21 जनवरी महिला सुरक्षा, और सम्मान से संबंधित विषय पर प्रतियोगिताएं, प्रतियोगिताओं का आयोजन, 22 से 25 जनवरी साइबर सुरक्षा जागरूकता एवं 26 जनवरी गणतंत्र दिवस परेड में झांकी, स्कूलों एवं ग्राम सभा में महिला सम्मान शपथ दिलाने की गतिविधियाँ आयोजित की जाएँगी।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close