अनूपपुर

आजादी के 75 वर्ष बाद भी नही पहुंची बिजली, ग्रामवासी अंधकार का जीवन जीने के लिए मजबूर

अनूपपुर। कोतमा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम पंचायत फुलकोना के आदिवासी बाहुल्य ग्राम सैतिनचुआ में आजादी के 75 साल बाद भी बिजली नही पहुँची है, ग्राम सैतिनचुआ के वासी आज अंधकार का जीवन जीने के लिए मजबूर हैं, इसी समस्या को लेकर 13 सितम्बर 2021 दिन सोमवार को युवा नेता जयप्रकाश पाण्डेय व जनपद सदस्य संजू सिंह मार्को की अगुवाई में सैकड़ो की संख्या ग्रामीणजन एसडीएम कार्यालय पहुंचे और कोतमा थाने से एसडीएम कार्यालय तक पैदल मार्च निकालकर विद्युतीकरण की मांग को लेकर एक ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में उल्लेख किया गया कि आदिवासी बाहुल्य ग्राम सैतिनचुआ पूर्णतः विद्युतविहीन है, जिस कारण से यहां निवासरत ग्रामवासियो का सामाजिक व आर्थिक विकास अवरुद्ध हो गया है यहाँ के लोग विकास की मुख्यधारा से नही जुड़ पा रहें है। जल्द से जल्द यदि हमारी मांग को पूरा नही किया गया तो हमे मजबूरन आंदोलन व धरना प्रदर्शन का रास्ता अपनाना पड़ेगा। ज्ञापन का वाचन युवा नेता शिव चतुर्वेदी ने किया। ज्ञापन सौपने में स्वरूप सिंह, फरसराम चैधरी, नरेंद्र महरा, नीलेश चैधरी, लखन चैधरी, राम सिंह, दिनेश नट, लखन सिंह, चेतन सिंह, क्षत्रधारी सिंह, राजकुमार सिंह, भीमसेन सिंह, लाल सिंह, धनराज सिंह, राजेश सिंह, रामप्रसाद सिंह, नेम सिंह, किरन चैधरी, पूरन चैधरी, पिंटू अहिरवार, राहुल नट, नर्मदा प्रसाद केवट, ओमप्रकाश केवट, रम्मू बादी, माखन सिंह, गणपत केवट, मानकुंवर, प्रेमवती, अमसिया बाई, रामबाई, द्रोपदी, राजू यादव, संजय यादव, अवध राम चैधरी, वीरेंद्र साहू, पुष्पेंद्र रावत, सिरवन सिंह, नरेंद्र गोस्वामी, नोहर लाल नट एवं अन्य ग्रामीण जन मौजूद रहे।

 

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
Close