अनूपपुर

कोल इंप्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन के केंद्रीय कार्यकारिणी (CEWA) की बैठक संपन्न

राजनगर। कोल इंप्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन केंद्रीय कार्यकारिणी की बैठक महेंद्र प्रताप सिंह (केंद्रीय अध्यक्ष) की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में को कोल इंडिया की सभी कंपनियों से आए प्रतिनिधियों ने भाग लिया और संगठन (एन.जी.ओ.) के द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की। सभी ने एकमत होकर कोयला उद्योग से जुड़े अधिकारी, कर्मचारी, पेंशनर, ठेकाकर्मियों की समस्याओं के विभिन्न पहलुओं पर अपने अपने विचार रखे और उन समस्याओं के निराकरण के संदर्भ में कुछ प्रस्ताव भी पारित किया जिसमे
सीएमपीएफ मे अंशदायियों द्वारा निवेश की जा रही राशि का सही प्रकार से निगरानी हो और अब तक राईट आफ हुई राशि की सीबीआई जांच करा कर राईट आफ के दोषियों को चिन्हित व दंडित कराया जाए। कोल इंडिया के कर्मचारियों को भी 20 लाख ग्रेच्यूटी का भुगतान 01.01.2017 से कराया जाए। पेंशन की न्यूनतम राशि ₹3000/- कराई जाए एवं सीएमपीएस-1998 के नियमानुसार प्रत्येक तीन वर्ष में पेंशन पुनर्निर्धारण कराने की व्यवस्था कराई जाए। सेवानिवृत्त कर्मचारियों के लिए कोल इंडिया की सभी परियोजनाओं में विश्रामगृह की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए। सेवा (CEWA) कोल इंडिया प्रबंधन से आग्रह करे कि 19% न्यूनतम एमजीबी के साथ राष्ट्रीय कोयला वेतन समझौता 11 को जल्द संपन्न कराए एवं कोयला उद्योग में कार्यरत सभी मान्यता प्राप्त एवं गैरमान्यता प्राप्त श्रमसंगठनों से आह्वाहन करे कि राष्ट्रीय कोयला वेतन समझौता 11 को जल्द संपन्न कराने के लिए संयुक्त आंदोलन का आह्वाहन करें। सीपीआरएमएस कंटिब्यूटरी पोस्ट रिटायरमेंट मेडीकेयर मे अधिकारी एवं कर्मचारी का भेदभाव समाप्त कर एकरूपता लाया जाए। ठेका कर्मचारियों को स्वसंचालित कोआपरेटिव सोसायटी के माध्यम से कार्य पर लगाएं एवं उन्हें वेतन व सुविधाओं का भुगतान उन्हीं कोआपरेटिव सोसायटी के द्वारा कराए। 2017 मे एम्स चिकित्सदल द्वारा दिए गए सुझावों को लागू कर चिकित्सा व्यवस्था को गुणवत्ता पूर्ण बनवाए। केंद्रीय सचिव संजीव श्रीवास्तव ने सीएमपीएफ का डीएचएफएल मे डूबे 727.67 करोड़ के संदर्भ में CEWA द्वारा माननीय उच्च न्यायालय में दायर की गई जनहित याचिका के संदर्भ में बताया। अध्यक्ष श्री महेंद्र प्रताप सिंह ने एसोसिएशन के विस्तार एवं योजनाओं के संदर्भ में विचार रखें। बैठक में शंकर प्रसाद कुंडू, गुलाब प्रसाद पटेल, प्रशांत सिंह, हरीनारायण केशरवानी, आनंद राम देवांगन, निर्मल राहा, दिब्यांशु सिंह, राजेश कुमार खरे,संजय कुमार सिंह, अरुण कुमार सिंह, सुरेंद्र तिवारी ने भी अपने अपने विचार रखें।

Related Articles

Back to top button
Close